क्या 5 रुपए का यह शेयर कुछ साल में ही करोड़पति बना सकता हैं?

इस लेख में, हम एक ₹5 स्टॉक का पता लगाएंगे जो बाजार में महत्वपूर्ण रुचि पैदा कर रहा है। विभिन्न मीडिया आउटलेट चर्चाओं से भरे हुए हैं, और विशेषज्ञ इसकी क्षमता के बारे में अलग-अलग राय रखते हैं। कुछ लोग इस स्टॉक में पर्याप्त वृद्धि की आशा करते हैं, जबकि अन्य इसे सावधानी के साथ देखते हैं। ऐसी धारणा है कि यह स्टॉक निकट भविष्य में निवेशकों को काफी मुनाफा दिला सकता है। तो, बिना किसी देरी के, आइए इस स्टॉक के बारे में विस्तार से जानें, इसके बुनियादी सिद्धांतों और शेयरहोल्डिंग पैटर्न की जांच करें और कंपनी के बिजनेस मॉडल के बारे में जानकारी हासिल करें।

2015 में स्थापित यह अपेक्षाकृत नई कंपनी लगातार विभिन्न क्षेत्रों में अपनी उपस्थिति का विस्तार कर रही है। इसका प्राथमिक ध्यान निवेश बैंकिंग पर है, विशेष रूप से अंतिम-निर्गम प्रबंधन गतिविधियों में। इसके अलावा, कंपनी के पास सेबी पंजीकृत मर्चेंट बैंकिंग एडवाइजरी का लाइसेंस है। जबकि कंपनी सक्रिय रूप से बैंकिंग क्षेत्र में अपने निवेश में विविधता लाती है, यह बोतल निर्माण में भी शामिल है और कीट नियंत्रण सेवाएं प्रदान करती है। इसके अतिरिक्त, यह हल्के बॉक्स निर्माण के लिए समर्पित एक सहायक कंपनी का संचालन करता है।

अब, आइए कंपनी के वर्तमान बाजार पूंजीकरण, जो लगभग ₹85 करोड़ है, का खुलासा करने से पहले कंपनी के बुनियादी सिद्धांतों और शेयरधारिता पैटर्न की जांच करें।

वर्तमान में इस शेयर की कीमत

स्टॉक वर्तमान में लगभग ₹6 प्रति शेयर पर कारोबार कर रहा है। जब इक्विटी पर रिटर्न की बात आती है, तो कंपनी ने 37 प्रतिशत से अधिक की प्रभावशाली लाभ वृद्धि देखी है। कंपनी के खातों में ₹14 करोड़ से अधिक की शेष राशि है, जो लगभग 131 प्रतिशत की वृद्धि दर्शाता है। लगभग ₹16 करोड़ की देनदारियों और ₹35 करोड़ से अधिक की संपत्ति के साथ, कंपनी की वित्तीय स्थिति मजबूत दिखाई देती है।

Last 5 years price of share

पिछले पांच वर्षों में, कंपनी ने मजबूत लाभ वृद्धि बनाए रखी है। इक्विटी पर रिटर्न भी सराहनीय रहा है। अनुपालन मानकों में उल्लेखनीय सुधार हुआ है। प्रतिस्पर्धा के मामले में, कंपनी का सामना बजाज फाइनेंस, बजाज फिनसर्व, जियो फाइनेंशियल, बजाज होल्डिंग्स, एसबीआई कार्ड और श्रीराम फाइनेंस जैसे दुर्जेय खिलाड़ियों से है।

कंपनी ने पिछले चार से पांच वर्षों में उल्लेखनीय बिक्री वृद्धि देखी है, साथ ही शुद्ध लाभ में भी काफी सुधार हुआ है। पिछले पांच वर्षों में मिश्रित बिक्री वृद्धि प्रभावशाली 16 प्रतिशत और पिछले तीन वर्षों में 3 प्रतिशत रही है। लाभ वृद्धि समान रूप से प्रभावशाली रही है, वर्ष के लिए 27 प्रतिशत की चक्रवृद्धि दर और पिछले तीन वर्षों में लगभग 115 प्रतिशत। इक्विटी पर रिटर्न पिछले पांच वर्षों से लगातार 20 प्रतिशत के आसपास रहा है और पिछले वर्ष बढ़कर 37 प्रतिशत हो गया है।

कंपनी का शेयरधारिता पैटर्न मजबूत बना हुआ है, जिसमें लगभग 58 प्रतिशत हिस्सेदारी अब जनता के पास है। कंपनी में कोई योग्य संस्थागत निवेशक हिस्सेदारी नहीं है, जिसे एक सकारात्मक पहलू माना जा सकता है।

हालाँकि, सावधानी बरतना और ऐसी कंपनियों में अपने पोर्टफोलियो का दो से तीन प्रतिशत से अधिक निवेश करने से बचना आवश्यक है, खासकर यदि आपके पास दीर्घकालिक निवेश लक्ष्य हैं। सावधानीपूर्वक योजना बनाने और वित्तीय सलाहकार के मार्गदर्शन से निश्चित रूप से अल्पकालिक लाभ प्राप्त किया जा सकता है। बहरहाल, ऐसी कंपनियों में दीर्घकालिक निवेश सावधानी से किया जाना चाहिए। निर्णय लेने से पहले हमेशा अपने जोखिम-इनाम अनुपात और निवेश मानदंडों पर विचार करें। यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि शेयर बाजार स्वाभाविक रूप से जोखिम भरा है, इसलिए केवल समाचार रिपोर्टों के आधार पर शेयर खरीदने में जल्दबाजी न करें। आपका निवेश सुविचारित होना चाहिए और आपके वित्तीय लक्ष्यों के अनुरूप होना चाहिए।

अंत में, जबकि यह लेख स्टॉक के बारे में बहुमूल्य जानकारी प्रदान करता है, कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले गहन शोध करना और विशेषज्ञ की सलाह लेना महत्वपूर्ण है।

अन्य जुड़े टॉपिक

नोट: यह लेख सिर्फ एक जानकारी मात्र है। यह लेख किसी भी शेयर को खरीदने या बेचने की सलाह नहीं देता है। ध्यान रहे की शेयर मार्केट जोखिमों से भरा होता है जहाँ अच्छा फायदा होने के साथ-साथ नुकसान भी हो सकता है।
अधिक एवं लैटस्ट जानकारी के लिए हमारे WhatsApp चैनल को जॉइन करें। क्लिक करें –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हाल ही में लिखा

HindiTreasure.com

Discover more from HindiTreasure.com

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading