तेज़ कैसे करें scaled

नमस्कार सभी को, तो आज इस लेख पर हम जानेंगे की दिमाग तेज़ कैसे करें। यूं तो इंटरनेट पर न जाने कितने ही video उपलब्ध हैं, न जाने कितने ही लेख उपलब्ध हैं जहां पर जानकारी आसानी से प्राप्त की जा सकती है। परंतु हुमने भी कुछ नहीं किया है बल्कि बहुत से ऐसी बातें भी जोड़ी है जो दिमाग तंदुरुस्त रखने के लिए उपयोगी है। इतना ही नहीं बल्कि पढ़ाई में दिमाग तेज करना, दिमाग तेज करने के घरेलू उपाय, दिमाग तेज करने के मंत्र एवं योग के बारे मे हम बात करेंगे।

क्या बादाम खाने से दिमाग तेज होता है?

वैसे तो यह बात बहुत प्रसिद्ध हुई की बादाम खाने से दिमाग तेज होता है लेकिन ऐसा होता तो कितना आसान होता, तो ऐसा बिल्कुल भी नहीं है, कोई भी सफलता प्राप्त करने के लिए मेहनत तो करनी ही पड़ेगी। बादाम खाने से अकल आती है ये तो एक मार्केटिंग तरीका है जो कंपनी वालों की बादाम बेचने मे सहायता करेगा। हो सकता है की कोई वैज्ञानिक शोध हुआ हो जहां पर यह बात कही गई हो की बादाम खाने से दिमाग तेज होता है। अगर ऐसा है तो हर इंसान बादाम खाने लगेगा एवं सबका दिमाग तेज हो जाएगा। अब बादाम एक जैसी ही होती हैं, मिलावटी तो नहीं आती की किसी को अच्छी या किसी को बेकार मिल जाए। अगर बादाम खाने से दिमाग तेज होगा तो सबका दिमाग तेज हो जाएगा एवं सबकी अकल बड़ जाएगी तो फिर उसके बाद ही तो सब लोग एक जैसे ही हो जाएंगे। तो बादाम खाने से मतलब क्या?

इसके अलावा किसी ने आजतक यह दावा भी किसी ने नहीं किया है की बादाम खाने से उसका दिमाग तेज हो गया या अकल बड़ गई। अगर आपने ऐसा देखा है की बादाम खाने से दिमाग तेज हुआ हो या अकल बड़ी होतो कमेन्ट में जरूर बताएं।

पढ़ाई में दिमाग तेज कैसे करें?

मुख्य रूप से माता-पिता अपने बच्चों को पढ़ाई में मजबूत बनाने एवं आगे बढ़ने के लिय “पढ़ाई मे दिमाग तेज कैसे करें” सर्च करते हैं। बच्चों का पढ़ाई मे दिमाग तेज बनाने के लिए उनकी दिनचर्या अच्छी एवं अच्छा भोजन मिलन बहुत जरूरी है बल्कि ये दो तरीके किसी बढ़े इंसान के लिए भी बहुत जरूरी है तो चलिए पॉइंट्स से समझते हैं।

बच्चों की अच्छी दिनचर्या करें।

सुबह उठने की आदत बनाएं। सुबह उठकर फ्रेश एयर की बात ही कुछ और होती है। इसलिए सुबह 15 या 20 मिनट घूमें या दौड़ें। जिससे एक अलगही ताजगी महसूस होगी।

अच्छा भोजन खाना चाहिए। सब्जी खाएं।

वैसे तो सभी प्रकार की सब्जी अच्छी होती है पर कुछ सब्जी जैसे पालक, बीन्स, फूलगोभी, ब्रोकली, सेम की फली, मुनगा (सहजन या सुजना) की फली, गाजर आदि को उपयोग किया जा सकता है। बच्चों की आदत होती है की वह अच्छी सब्जी को छोड़कर junk food की तरफ ज्यादा आकर्षित होते रहते हैं एवं उसे खा लेंगे तो फिर पेट मे सब्जी खाने की जगह कहाँ रहेगी। तो यह जिम्मेदारी माता-पिता की ही होती है की वह अपना कार्य करें।

अगर नॉन-वेगन है तो अंडे का उपयोग भी कर सकते हैं। नित्य दूध भी पीना चाहिए।

फलों का खिलाएं।

सब्जी का उपयोग होता है तो अच्छा है पर फलों का उपयोग भी बेहद जरूरी है। नीचे ऐसे फलों के नाम बताए जा रहें हैं जो बच्चों के साथ-साथ बड़ों का भी दिमाग तेज कर सकता है। जैसे

  • संतरा – संतरा या ऑरेंज विटामिन सी से भरपूर होता है।
  • अनार – अनार खाने से खून बढ़ता है एवं यदाश्त भी तेज होती है।
  • आड़ू (Peach) – यह फल वैसे तो आसानी से सब जगह नहीं पाया जाता परंतु आपके जगह पर मिलता है तो जरूर सेवन करें। यह एंटीऑक्सीडेंट होता है।
  • स्ट्रॉबेरी – स्ट्राबेरी का उपयोग करना चाहिए जो दिमाग को एक तरह से रीलैक्स करता है।
  • अखरोट – यह फल भी सुबह खाली पेट खाने से दिमागी शक्ति बढ़ती है। लेकिन यह बहुत कठोर होता है इसलिए रात मे 1 या 2 अखरोट भिगो कर रख दें एवं सुबह बच्चों को खिलाएं।

इसके अलावा प्रोटीन युक्त अंकुरित बीज, डाल आदि का भी उपयोग किया जा सकता है।

दिमाग तेज करने का मंत्र / मेडिटेशन या ध्यान से करें तेज दिमाग।

दिमाग तेज करने के लिए कई तरह के मंत्र हो सकते हैं जैसे “ॐ नमः शिवाये”। यह मंत्र सुबह स्नान के बाद 5 से 15 मिनट तक कर सकते हैं। यह मंत्र एक तरह से हमें ईश्वर के ध्यान मे भी सहायता करेगा एवं पूरा ध्यान सिर्फ एक मंत्र पर रहेगा तो बाकी सभी बातें जो दिमाग मे चल रही है वह कुछ समय के लिए दूर हो जाएंगी।

क्या बादाम खाने से दिमाग तेज होता है?
छवि स्त्रोत – pixabay.com

मंत्रों को दैनिक सुबह जाप करना चाहिए। एक या दो बार करने से बात नहीं बनने वाली।

दिमाग तेज करने के योग।

बाबा रामदेव के video के आधार पर यह कहा जा सकता है की कपालभर्ती करने से दिमाग तेज होने मे मदद मिलती है, इतना ही उन्होंने यह भी कहा की पढ़ाई में मन एकाग्र करने के लिए योग भी बहुत जरूरी है। इसके साथ ही अनुलोम-विलोम भी किया जा सकता है। नीचे दिए हुए Video मे बाबा रामदेव जी ने साफ-साफ कहा है की भस्त्रिका प्राणायाम, सर्वांगासन जरूर करना चाहिए।

बाबा रामदेव का कहना है की जो योग मे एकाग्र होगा उसका मान पढ़ाई मे भी एकाग्र होगा।

दिमाग तेज करने की दवा पतंजलि एवं सिरप

“दिव्य मेधा वाटी एक्स्ट्रा पावर” की 1 गोली सुबह, 1 गोली दोपहर, 1 गोली शाम को पानी से साथ खाई जा सकती है।

दूध के साथ एक चम्मच “दिव्य बादाम रोगन” का मिलाया जा सकता है। इसके साथ कोई भी च्यवनप्राश दे सकते हैं। स्वाद अच्छा करने के लिए थोड़ा honey भी दूध मे मिलाया जा सकता है।

नोट/अस्वीकरण (Disclaimer) – ऊपर दी हुई दवाइयाँ बाबा रामदेव के video के आधार पर लिखी गईं है। किसी भी दवा के सेवन करने से पहले डॉक्टर का परामर्श जरूर लें। अगर आप पतंजलि स्टोर की दवा का उपयोग करने जा रहें हैं तो पतंजलि के डॉक्टर भी होते हैं जिनके बारे मे जानकारी पतंजलि स्टोर से या उनके हेल्पलाइन नंबर से भी प्राप्त की जा सकती है।

यह वेबसाईट (hinditreasure.com) इन दवाइयों के सत्यता का दावा नहीं करता एवं इन दवाओं के उपयोग से किसी भी तरह के फायदे एवं नुकसान के लिए यह वेबसाईट (hinditreasure.com) या उनकी एडिटर जिम्मेदार नहीं होंगे।

अधिक एवं लैटस्ट जानकारी के लिए हमारे WhatsApp चैनल को जॉइन करें। क्लिक करें –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

HindiTreasure.com

Discover more from HindiTreasure.com

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading