अमेजन किसान के हाथ मिलाने से किसानों की होगी बल्ले-बल्ले

भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद, (आईसीएआर (ICAR)) नई दिल्ली, ने अमेजन किसान (Amazon Kisan) के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया ताकि, अधिक उपज और आय के लिए, विभिन्न फसलों की वैज्ञानिक खेती पर किसानों का मार्गदर्शन करने, दोनों संगठनों में तालमेल बिठाकर उनकी शक्ति का संयोजन किया जा सके। आईसीएआर, अमेजन के नेटवर्क के माध्यम से किसानों को तकनीकी सहायता प्रदान करेगा। इसके परिणामस्वरूप किसानों की आजीविका में सुधार होगा और फसल की उपज भी बढ़ेगी। ‘अमेजन किसान कार्यक्रम’ से किसानों के साथ साझेदारी का यह समझौता ज्ञापन, उपभोक्ताओं के लिए उच्च गुणवत्ता वाली ताजी उपज तक पहुँच, अमेजन फ्रेश के द्वारा भी, सुनिश्चित करने में मदद करेगा।

डॉक्टर हिमांशु पाठक, सचिव, डीएआरई, महानिदेशक, आईसीएआर, ने इस अवसर पर किसानों के लिए बेहतर आय के लिए माध्यमिक कृषि पर ज़ोर दिया। आगे उन्होंने कृषि और मौसम आधारित फसल योजनाओं में महत्वपूर्ण इनपुट के महत्त्व और भूमिका पर प्रकाश डाला। उन्होंने उल्लेख किया कि आईसीएआर नए ज्ञान, दक्षता उन्नयन और तकनीक के हस्तांतरण के लिए अमेजन के साथ सहयोग करेगा।

Indian Farmers
Indian Farmers

आईसीएआर की ओर से डॉक्टर यूएस गौतम, उप महानिदेशक (कृषि विस्तार) और श्री सिद्धार्थ टाटा, वरिष्ठ उत्पाद प्रमुख, अमेजन फ्रेश सप्लाइ चेन और किसान, ने समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।

आईसीएआर, केवीके और अमेजन के बीच पुणे की एक पायलट परियोजना के परिणामों ने व्यापक शोध के माध्यम से विकसित, उचित कृषि पद्धतियों का विस्तार करने के लिए सहयोग को और आगे बढ़ाने के लिए प्रेरित किया है। कृषि विज्ञान केंद्र, प्रौद्योगिकी के हस्तांतरण और दक्षता निर्माण कार्यक्रमों के माध्यम से तकनीकी आधार को बढ़ाकर किसानों के एक व्यापक समूह को मजबूत करेगा। आईसीएआर और अमेजन, कृषि विज्ञान केंद्रों में अन्य किसान से जुड़े कार्यक्रम पर एक साथ प्रदर्शन, परीक्षण और दक्षता उन्नयन आदि माध्यमों से खेती के तरीकों और कृषि लाभ को बढ़ाने के उद्देश्य से काम करेंगे। इसके अलावा अमेज़न अपने ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के माध्यम से किसानों को उनकी उपज के विपणन में प्रशिक्षण और सहायता प्रदान करेगा ताकि, उपभोक्ताओं के साथ उनका सीधा जुड़ाव हो सके।

अधिक एवं लैटस्ट जानकारी के लिए हमारे WhatsApp चैनल को जॉइन करें। क्लिक करें –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

HindiTreasure.com

Discover more from HindiTreasure.com

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading